मनोरंजन

सुशांत और सारा की फ़िल्म केदारनाथ को दौबारा रिलीज करने के फैसले पर भड़के प्रशंसक, यह है वजह

देशव्यापी लॉकडाउन के बाद अब देश धीरे धीरे फिर से खुल रहा है। दुकानों, रेस्टोरेंट के बाद अब नंबर सिनेमा घरों का है। जो कि 15 अक्टूबर के दिन खुल जाएंगे। वहीं इसी के साथ कई फिल्में रिलीज होने के लिए तैयार है। वहीं दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत और पटौदी खानदान की लाडली सारा अली खान की फ़िल्म केदारनाथ को भी दौबारा रिलीज किये जाने का फैसला लिया गया है। इस बात से सुशांत के कई चाहने वाले खुश नहीं है। क्योंकि लोगों का इस पर कहना है कि यह बस सुशांत के गुज़र जाने के बाद उनके नाम पर बस पैसा कमाना चाहते हैं।

 दरअसल बुधवार के दिन फिल्मों के विशेषज्ञ तरण आदर्श ने एक पुरानी फिल्मों की लिस्ट ज़ारी की, यह वो फिल्में थी जिन्हें एक बार फिर थिएटर में रिलीज किया जाएगा। इन्हीं फिल्मों की लिस्ट में सुशांत केदारनाथ भी है।  

एक यूजर का कहना है कि क्या इस फ़िल्म से जो मुनाफा मिलेगा वो समाज सेवा में जायेगा? तो इसका जवाब होगा एक बड़ी ना…तो फिर प्रड्यूसर की जेब क्यों भरे? इससे अच्छा है कि इन पैसों का इस्तेमाल सुशांत के ख्वाब पूरे करने में करो, पेड़ लगाओ, गरीबों की मदद करो। 

एक यूजर ने लिखा कि “वाह सुशांत के नाम का भी इस्तेमाल अब… क्या उनको फ़िल्म बिजनेस का प्रॉफिट मिलेगा? नहीं…तो हम क्यों जाएं? ट्रैप में फंसने के लिए हम इतने बेवकूफ लगते हैं क्या तुमको, नो मिन्स नो कम्पलीट बॉयकॉट।

एक यूजर ने लिखा कि “सुशांत के चाहने वालों सिनेमा हॉल में मत जाना, यह एक तरह से हमें सुशांत के नाम पर जाल में फंसाना चाहते हैं। केदारनाथ फ़िल्म सिनेमा हॉल में देखने से अच्छा है घर पर रह कर फ़िल्म देखें आपके पैसे बच जाएंगे। 


अब इस फ़िल्म के रिलीज के बाद इसे दर्शक मिलेंगे या नहीं यह तो आगे पता चलेगा। हां मगर ट्विटर पर चल रही यह बहस मेकर्स को परेशान जरूर कर रही होगी।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular

To Top