मनोरंजन

रिया चक्रवर्ती पर फुट रहा है मीडिया और जनता का गुस्सा, वहीं समर्थन से भी आ रही है आवाजें

सुशांत सिंह राजपूत के मामले में उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पर कई आरोप लगे हैं। सुशांत मामले के बाद मुंबई पुलिस ने रिया से लंबी पूछताछ की। वही सुशांत के परिवार ने पटना में उनके खिलाफ सुशांत को गलत काम के लिए उकसाने और उनके पैसे हड़पने का आरोप लगाया। इस एफआईआर के बाद से ही रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें बढ़ गई। उनसे देश की तीन बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई, ईडी और एनसीबी ने पूछताछ की।

इन सबके साथ ही रिया चक्रवर्ती और उनके पूरे परिवार को देशभर के गुस्से का सामना करना पड़ा। मीडिया चैनल्स ने लगातार उनके पल पल की खबर जनता को दिखाई हैं। एक ओर जहां सुशांत के फैंस रिया चक्रवर्ती की आलोचना कर रहे हैं। वही कुछ लोग रिया चक्रवर्ती के समर्थन में अपनी आवाज़ उठा रहा हैं। Hutkay Films की डायरेक्टर ने हाल ही में अपने एक आर्टिकल में रिया की तरफदारी करते हुए उनकी आवाज सुनी जाने की बात कही है।

मीडिया की वजह से बन गई गलत इमेज

राइटर का मानना है कि जब से सुशांत की मौत हुई है तब से ही मीडिया चैनल्स ने दिन-रात रिया चक्रवर्ती के बारे में गलत चीजें ही जनता के सामने पेश की है। मीडिया में कहा गया कि उन्होंने अपने से ज्यादा फेमस बॉयफ्रेंड का फायदा उठाया, वह पेडलर है, उन्होंने सुशांत को फंसाया और उनको नुकसान पहुंचाया। लेकिन लोग यह भूल जाते हैं कि हर इंसान कैमरा के बाद एक नॉर्मल इंसान है। जो सांस लेता है जिसे इस तरह के आरोपों से तकलीफ होती है।

AIIMS ने सुशांत सिंह राजपूत की फॉरेंसिक रिपोर्ट सीबीआई को सौंपी है। जिसमें इसमें किसी संदेह का मामला नहीं बताया गया है। राइटर के मुताबिक इस रिपोर्ट में बहुत देरी हो गई। अब तो देश की 75% जनता उन सभी बातों पर विश्वास करती है जो कि चौबीसों घंटे मीडिया में रिया के खिलाफ दिखाई गई हैं। अगर ऐसे में कोई इंसान फिर से अपनी जिंदगी जीना चाहे तो उसे इस प्रकार की ह्यूमिलिएशन भूलने में कितनी मुश्किल होगी। 

रिया को दिया जाना चाहिए बोलने का मौका

राइटर का कहना है कि, इस बात में कोई दो राय नहीं की रिया चक्रवर्ती के साथ मीडिया और जनता ने बहुत बदसलूकी की है। अगर कोई व्यक्ति गुनाहगार है भी तो उसे सजा देने का अधिकार अदालत का होता होता हैं। न्यूज़ चैनल से लेकर सोशल मीडिया तक रिया चक्रवर्ती के लिए अपशब्दों का प्रयोग हुआ है। किसी भी महिला के साथ इस तरह का व्यवहार अमान्य है।

रिया चक्रवर्ती ने जिस प्रकार से यह ह्यूमिलिएशन सहा। वह वाकई काबिले तारीफ है और इसे सुना जाना चाहिए। रिया चक्रवर्ती के इन सभी चीजों को फेस करने और इनसे बाहर निकलने की जर्नी को एक मोटिवेशनल स्पीच की तरह किसी टेड टॉक में सुना जाना चाहिए।

सुशांत की कमी देश के लिए है हानि

 सुशांत के फैंस का मानना है कि रिया चक्रवर्ती ने एक्टर के साथ जो किया है उसके सामने ये सब कुछ भी नहीं हैं। उनकी वजह से एक बाप ने अपना बेटा खोया है, चार बहनों ने इकलौता भाई खो दिया। सुशांत एक एक्टर के अलावा एक बेहद अच्छे इंसान थे। सुशांत की मौत देश के लिए एक बहुत बड़ी हानि है। अगर उन्हे इंसाफ नहीं मिला तो देश का हर युवा बड़े सपने देखने से डरेगा। सुशांत हर इंसान के लिए इंस्पिरेशन हैं। फैंस का मानना है कि रिया का समर्थन करने वाले सुशांत का दर्द नहीं समझते।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top